हज़रत अली / Hazrat Ali

हज़रत अली के अनमोल वचन / Hazrat Ali Quotes

जिसको तुमसे सच्चा प्रेम होगा, वह तुमको व्यर्थ और नाजायज़ कामों से रोकेगा

किसी ने हजरत अली से पुछा. दोस्त और भाई में क्या फर्क है.? हजरत अली ने फरमाया “भाई सोना है और दोस्त हीरा है”
उस आदमी ने कहा “आप ने भाई को कम कीमतऔर दोस्त को ज्यादा कीमती चीज़ से क्यू तशबीह दी “?
तो हजरत अली ने फरमाया “सोनेमें दरार आ जाये तोउस को पिघला कर बिलकुल पहले जैसा बनाया जा सकता है.
जब की हीरे में एक दरार भी आ जाये तो वोकभी भी पहले जैसा नही बन सकता.

नमाज़ की फ़िक्र अपने ऊपर फ़र्ज़ करलो..!!
खुदा की कसम दुनिया की फ़िक्र से आज़ाद हो जाओगे,और क़ामयाबी तुम्हारे क़दम चूमेंगी…

नेक लोगों की सोहबत से हमेशा भलाई ही मिलती हे क्यों के..हवा जब फूलो से गुज़रती हे तो वो भी खुश्बुदार हो जाती हे…

पूर्ण विश्वास के साथ सोना संदेह की स्थिति में नमाज़ पढ़ने से बेहतर है

Meet the people in such a manner that if you die,
they should weep for you, and if you live,
they should long for you.

Don’t develop friendship with the enemy of your friend; otherwise your friend will turn into an enemy.

It is easier to turn a mountain into dust than to create love in a heart that is filled with hatred जब मेरा जी चाहता है के मैं अपने रब से बात करूँ तो मैं नमाज़ पढ़ता हूँ

अपने जिस्म को ज़रूरत से ज़्यादा न सवारों,क्योंकि इसे तो मिट्टी में मिल जाना है,
सवॉरना है तो अपनी रूह को सवॉरों क्योंकि इसे तुम्हारे रब के पास जाना है”

किसी ने हजरत अली रज़ी. से पूछा के जिनकी माँ नही होती उनके बच्चों को दुआ कौन देता है? आप फरमाया के कोई झील अगर सुख भी जाए तो मिट्टी से नमी नही जाती इसी तरह माँ के इन्तेकाल के बाद भी अपनी औलाद को दुआ देती रहती है.

जब गुनाह के बावजूद अल्लाह की नेअमते मुसलसल तुझे मिलती रहे तो
तु होशियार हो जाना के तेरा हिसाब करिब और सख्त तरिन है

किसी का ऐब (बुराई) तलाश करने वाले मिसाल उस मक्खी के जैसी है जो सारा खूबसूरत जिस्म छोड सिर्फ़ ज़ख्म पर बैठती है

Gold is tested with fire, and the believer is tested with trials.

When the people of truth remain quiet against falsehood, the people of falsehood start believing it is the truth

There is no good in silence when it comes to knowledge,
just as there is no good in speaking when it comes to ignorance किसी की आँख तुम्हारी वजह से नम न हो क्योंकि तुम्हे उसके हर इक आंसू का क़र्ज़ चुकाना होगा

अगर कोई शख्स अपनी भूख मिटाने के लिए रोटी चोरी करे तो चोर के हाथ काटने के बजाए बादशाह के हाँथ काटे जाए।

जो लोग सिर्फ तुम्हे काम के वक़्त याद करते हे उन लोगो के काम ज़रूर आओ
क्यों के वो अंधेरो में रौशनी ढूँढ़ते हे और वो रौशनी तुम हो

हमेशा समझोता करना सीखो क्यूंकि थोडा सा झुक जाना किसी रिश्ते का हमेशा के लिए टूट जाने से बेहतर है

राज्य का खजाना और सुविधाएं मेरे और मेरे परिवार के उपभोग के लिए नहीं हैं, मै बस इनका रखवाला हूँ

अक़्लमंद अपने आप को नीचा रखकर बुलंदी हासिल करता है और नादान अपने आप को बड़ा समझकर ज़िल्लत उठाता है।

He who is deserted by friends and relatives will often find help and sympathy from strangers.

The tongue is like a lion, if you let it loose, it will wound someone.

Religion (Islam) is a treasure and ‘ilm (knowledge) is the route to it. किसी की बेबसी पे मत हंसो ये वक़्त तुम पे भी आ सकता है

“कम खाने में सेहत है, कम बोलने में समझदारी है और कम सोना इबादत है

एक ज़माना ऐसा भी आएगा कि लोग अपने रब को भुल जाएंगे,
लिबास बहुत क़ीमती पहन कर बज़ार में अकड़ कर चलेंगे
और इस बात से बेखबर होंगे के उसी बाज़ार में उन का कफन मौजूद है

जाहिल के सामने अक़्ल की बात मत करो पहले वो बहस करेगा फिर अपनी हार देखकर दुश्मन हो जायेगा

जब नेमतों पर शुक्र अदा किया जाए तो वह कभी ख़त्म नही होती

अगर किसी के बारे मे जानना चाहते हो तो पता करो के वह शख्स किसके साथ उठता बैठता है

If you are the recipient of kindness, remember it. If you are the giver of kindness, forget it!

Knowledge is better than wealth, Knowledge protects you but with wealth you have to protect it.

Humbleness clothes you in dignity. कभी तुम दुसरों के लिए दिल से दुवा मांग कर देखोतुम्हें अपने लिए मांगने की जरूरत नहीं पड़ेगी ..

कोई गुनाह लज्जत के लिए मत करना क्यो की लज्जत खत्म गुनाह बाकी रहेगा
और कोई नेकी तकलीफ की वजह से मत छोड ना क्यो की तखलीफ खत्म हो जायेगी पर नेकी बाकी रहेगी

हमेशा ज़लिमो का दुश्मन और मज़लूमो का मददगार बन कर रहना…

दुनिया अमल की जगह है, मौत के बाद हम को और तुम्हे पता चलेगा

इल्म की वजह से दोस्तों में इज़ाफ़ा (बढ़ोतरी) होता है दौलत की वजह से दुशमनों में इज़ाफ़ा होता है ।

Greed is permanent slavery

Jealousy by a friend means defect in his love

Your souls are precious, and can only be equal to the price of paradise. Therefore, sell them only at that price. जो इनसान सजदो मे रोता है। उसे तक़दीर पर रोना नहीं पड़ता।

तुम्हारे नफ्स की कीमत जन्नत है, इसे जन्नत से कम कीमत पे ना बेचना.

ज़िल्लत उठाने से बेहतर है तकलीफ उठाओ

कभी भी अपनी जिस्मानी ताकत और दौलत पर भरोसा न करना क्युँकि बीमारी और ग़रीबी आने में देर नही लगती…!

जब तुम्हरी मुख़ालफ़त हद से बढ़ने लगे, तो समझ लो कि अल्लाह तुम्हें कोई मुक़ाम देने वाला है

झूठ बोलकर जीतने से बेहतर है सच बोलकर हार जाओ।

मुश्किलतरीन काम बहतरीन लोगों के हिस्से में आते हैं. क्योंकि वो उसे हल करने की सलाहियत रखते हैं

Do not criticize too much. Too much criticism leads to hate and a bad behavior.

Don’t show pleasure in somebody’s downfall, for you have no knowledge of what the future holds in store for you.

Beautiful people are not always good, but good people are always beautiful. गरीब वो है जिसका कोई दोस्त न हो।

इंसान मायूस और परेशान इसलिए होता है, क्योंकि वो अपने रब को राज़ी करने के बजाये लोगों को राज़ी करने में लगा रहता है।

अगर दोस्त बनाना तुम्हारी कमज़ोरी है,,,”तो”तुम दुनिया के सबसे ताक़तवर इंसान हो…

इख़्तियार ,ताक़त और दौलत ऐसी चीजें हैं जिनके मिलने से लोग बदलते नहीं नक़ाब” होते हैं।

खुबसुरत इंसान से मोहब्बत नहीं होती बल्कि जिस इंसान से मोहब्बत होती है वो खुबसुरत लगने लगता है

दौलत को क़दमों की ख़ाक बनाकर रखो क्यूकि जब ख़ाक सर पर लगती है तो वो कब्र कहलाती है।

जहा तक हो सके लालच से बचो लालच में जिल्लत ही जिल्लत

If you don’t know a thing never hesitate or feel ashamed to learn it.

See the bad inside yourself, and see the good inside others

The strongest amongst you is he who subdues his self. रिज्क के पीछे अपना इमान कभी खराब मत करो”
क्योंकि नसीब का रीज़क इन्सान को ऐसे तलाश करता है जैसे मरने वाले को मौत

दोस्तों के ग़म में शामिल हुवा करो हर हाल में लेकिन खुशियों में तब तक न जाना जब तक वो खुद ना बुलाये….

इंसान की ज़ुबान उसकी अक्ल का पता देती है और आदमी अपनी ज़ुबान के नीचे छुपा होता है !!

इन्सान का अपने दुश्मन से इन्तकाम का सबसे अच्छा तरीका ये है कि वो अपनी खूबियों में इज़ाफा कर दे !!

हमेशा उस इंसान के करीब रहो जो तुम्हे खुश रखे लेकिन उस इंसान के और भी करीब रहो जो तुम्हारे बगैर खुश ना रह पाए

जिसकी अमीरी उसके लिबास में हो वो हमेशा फ़कीर रहेगा और जिसकी अमीरी उसके दिल में हो वो हमेशा सुखी रहेगा

“जो तुम्हारी खामोशी से तुम्हारी तकलीफ का अंदाज़ा न कर सके
उसके सामने ज़ुबान से इज़हार करना सिर्फ़ लफ्ज़ों को बरबाद करना है

Through patience, great things are accomplished

Don’t use sharpness of your speech on the mother who taught you how to speak.

When proven wrong, the wise corrects himself & ignorant argues सब्र को ईमान से वो ही निस्बत है जो सिर को जिस्म से है.

दौलत, हुक़ूमत और मुसीबत में आदमी के अक्ल का इम्तेहान होता है कि आदमी सब्र करता है या गलत क़दम उठता है.

सब्र एक ऐसी सवारी है जो सवार को अभी गिरने नहीं देती।

ऐसा बोहोत कम होता है के जल्दबाज़ नुकसान न उठाये , और ऐसा हो ही नही सकता के सब्र करने वाला नाक़ाम हो.

सब्र – इमान की बुनियाद, सखावत (दरियादिली) – इन्सान की खूबसूरती, सच्चाई – हक की ज़बान,
नर्मी – कमियाबी की कुंजी, और मौत – एक बेखबर साथी है .

Don’t be slave of others when Allah has created you free.

Fear Allah and you will have no cause to fear anyone else.

Our enemies are not Jews or Christians, but our enemies are our ignorance.